Choose the page language

इस कहानी में, आप एक ऐसी महिला के बारे में सुनेंगे, जिसने अपनी आजादी पुनः प्राप्त करने के लिए अपनी जीवनशैली और अपनी कार में बदलाव किया।

Gifty अपनी व्यक्तिगत देखभाल की ज़रूरतों में सहायता के लिए उपयोग किए जाने वाले अनुकूली उपकरणों और अपनी कार में किए गए संशोधनों की सिफारिश करती है जिससे उसे फिर से ड्राइव करने में मदद मिली। ड्राइव करने में सक्षम होने के कारण उसे आत्मविश्वास, स्वतंत्रता मिली है और उसे और अधिक सामाजिक होने के लिए प्रोत्साहित किया है। 

About the storyteller

हमारी कहानीकार Gifty, वह व्यक्ति है जिसने एक दुर्घटना के बाद स्थायी शारीरिक अक्षमता हासिल कर ली है। जब उसने फिर से गाड़ी चलाना सीखा, तो उसने पहियों पर अपनी स्वतंत्रता वापस पा ली। वह उन समर्थनों को भी साझा करती है जो उसे प्रतिदिन अपनी स्वतंत्रता बनाए रखने में मदद करते हैं।

Transcript Available 

Silky: नमस्ते और Speak My Language कार्यक्रम में आपका स्वागत है। जहाँ सांस्कृतिक रूप से विभिन्न समुदायों के लोग विकलांगता के साथ अच्छी तरह से जीने के बारे में बात करते हैं। मेरा नाम सिल्की कनोजा है और मैं Multicultural Communities Council of South Austraila के साथ काम करती हूँ। हमारे interviews में हम सांस्कृतिक रूप से विविध समुदायों के अक्षम लोगों से सीखते हैं कि वे व्यक्तिगत कौशल और सामुदायिक संसाधनों का उपयोग कैसे अच्छी तरह से जीने के लिए करते हैं, चाहे वे कहीं भी हों। हम अक्षम लोगों और अन्य लोगों से वास्तविक कहानियां सुझाव और विचार साझा करते हैं, जो हमें सुलभ स्थानों, गतिविधियों और अवसरों के बारे में भी बताते हैं। आज हमारे अतिथि गिफ्टी हैं जो हमें पहियों के माध्यम से स्वतंत्रता की अपनी कहानी बताएंगी। गिफ्टी हमें उन समर्थनों के बारे में भी बताएंगी जो उसे अपनी स्वतंत्रता बनाए रखने में मदद करते हैं। गिफ्टी आपका स्वागत है और आज यहां आने के लिए धन्यवाद।
Gifty: शुक्रिया।
Silky:गिफ्टी, आपके जीवन में पहियों की या मैं कहूंगी कि आपकी कार की क्या भूमिका है?
Gifty: मेरे जीवन में कार बहुत ज़्यादा महत्वपूर्ण है। because मैं अपने बच्चों का ध्यान रख सकती हूँ। मैं खुद, मतलब अपने आप independent बन सकती हूँ। मैं अकेली, बिना कार के तो मेरी life बिल्कुल ही, like मैं कुछ भी नहीं कर सकती। मुझे सबसे मिलना बहुत अच्छा लगता था और social होना अच्छा लगता था। बच्चों की रोज़ाना की जो activity होती है वो करवानी बहुत जरुरी है मेरे लिए। मैं ये कभी भी नहीं चाहूंगी कि मेरे से कार छिन जाए। मैं कार के बिना नहीं रह सकती बहुत मुश्किल है।
Silky:कैसे यह पहिये आपको अच्छी तरह जीवन में जीने में मदद करते हैं?
Gifty: देखिए, बच्चों की खुशी, मेरी family की खुशी सारी इस पर depend करती है कि वो जाएं अपने दोस्तों से मिलें अपनी activities करें अपने रोज़ाना का काम करें, पढ़े और आगे बढ़ें सबसे। इसीलिए रोज़ाना मैं तो बच्चों को, हर रोज़ की एक एक activity है कि वो उन्होंने करनी ही करनी है चाहे वो weekday है या weekend है। तो मुझे तो ले जाना होता है। और मेरे husband full time काम करते हैं जबसे मैं घर पर हूँ। पहले मैं भी full time काम करती थी लेकिन जब से मैं घर पर हूँ तो मुझे तो कार चाहिए ही थी कि मैं बच्चों को ले जा सकूं। सब कुछ कितना दूर दूर है। मैं private, sorry, public transport तो नहीं ले सकती थी।
Silky:आपके कार में क्या बदलाव किए गए हैं गिफ़्टी?
Gifty: मेरी कार में सब कुछ जैसे European गाड़ियों में होता है कि सबकुछ left होता है पर मेरी गाड़ी Toyota है, Toyota Camry, तो उसमें सब कुछ right hand side पर था which जो मैं खुद अपने हाथ से drive नहीं कर सकती थी। क्योंकि indicators right मैं हैं और वो steering wheel को भी मूव करना सिर्फ़ मेरे left hand से बहुत मुश्किल था तो इसीलिए अब उन्होंने मेरी left hands में indicators कर दिए और एक steering nob लगा दिया, जिससे मैं एक हाथ से गाड़ी easily drive कर लेती हूँ।
Silky: इसका मतलब आपकी जो right बाजू है वो बहुत ज्यादा आप use नहीं कर सकती।
Gifty: मैं अपनी right, उसमें एक तो पूरी strength नहीं है पूरा मतलब ज़ोर जैसे था पहले मेरे हाथ में वो नहीं रहा और मैं lift नहीं कर सकती बिल्कुल अपने arm को।
Silky: आपको अपनी कार में बदलाव करने के लिए किसने प्रोत्साहित किया?
Gifty: मेरी Occupational Therapist ने।
Silky: जब आपने पहली बार गाड़ी चलाना फिर से सीखने के बारे में सुना तो आप के क्या विचार थे?
Gifty: शुरू में तो मुझे डर लगा था कि जो हादसा हो चुका वो हादसा फिर से ना हो जाए, मेरे को बहुत मुश्किल रही वापस but अंदर ही अंदर मैं खुश भी थी, लेकिन मेरा डर भी था और मैं depression में थी तो उसकी वजह से बहुत ज्यादा कुछ नहीं हुआ but slowly slowly ग्रेजुअली थोड़ा ना धीरे धीरे changes आए, लेकिन गाड़ी तो मुझे था ही कि मुझे चलानी ही चलानी पड़ेगी उसके बिना जिंदगी नहीं है। मेरे बच्चों ने बहुत suffer किया है जब मैं घर पर रही हूँ उनके swimming lessons बंद हो गए थे। उनकी सब activities बंद हो गई थीं।
Silky: जब आप घर पे थे तब बच्चे स्कूल कैसे जाते थे?
Gifty: मेरे बच्चे बहुत जल्दी बड़े हो गए। उन्होंने, खुद walk करके जाने लगे। अपने आप दोनों क्यूंकि स्कूल बहुत दूर नहीं था। लेकिन पहले मैं कार में छोड़ आती थी तो कई बार खुद walk करके जाते थे, कई बार साइकिल पर जाते थे। लेकिन अगर बारिश है तो मुझे किसी से help लेनी पड़ती थी, किसी और को पूछना पड़ता था कि please मेरे बच्चों को ले जाओ स्कूल और कई बार उनकी छुट्टी करनी पड़ती थी जब कोई available नहीं होता था।
Silky: क्या आपने फिर से गाड़ी चलाने के लिए कोई training ली है? यदि हां, तो फिर से गाड़ी चलाने में सक्षम होने के लिए आपने किस प्रकार की training पूरी की है?
Gifty: अच्छा, मैंने गाड़ी चलाने के लिए मुझे training लेनी पड़ी थोड़ी सी, क्योंकि हर जगह सिर्फ nob से ही मैं turn कर सकती थी। वही allowed है मुझे, steering wheel पर normal मैं नहीं कर सकती। allowed नहीं है मुझे। तो मैंने training ली और फिर उन्होंने मुझे टेस्ट के लिए बिठाया कि टेस्ट देना पड़ेगा आपको तो मैंने वो टेस्ट दिया और मेरा पहली बार में टेस्ट clear हो गया था।
Silky: जब आपने training ली क्या आपके लिए वो मुश्किल थी?
Gifty: थोड़ी बहुत yes, मेरे लिए मुश्किल थी मैं अपने husband को अपने साथ ले कर जाती थी वो मेरे पीछे गाड़ी में बैठते थे, trainer मेरे साथ होती थी। मुझे डर लगता था कि कोई मार देगा मुझे फिर दुबारा।
Silky: क्या अब driving के अपने पहले दिन का अनुभव हमारे साथ साझा कर सकती हैं?
Gifty: वो बहुत मुश्किल time था। उसमें तो बस ऐसे था कि एक तो fully drench, मतलब मैं पसीने में पूरा भीग गई कि क्या होगा, मैं सारी रात सो नहीं पाई, anxiety हो गई मुझे कि कल गाड़ी चलानी है कल किसी ने मुझे मार दिया, मेरे husband साथ होंगे, कोई और होगा उनके साथ कुछ ना हो जाए। सड़क पर निकलना, like गाड़ी में बैठना ही बहुत मुश्किल था मेरे लिए even कि passenger बनने के लिए भी। कुछ चलाना तो आप सोच सकते हैं कि मुझे कैसा feel होता होगा। मैं गाड़ी में सीट पकड़ के बैठती थी कि कुछ हो ना जाए। लेकिन आहिस्ता आहिस्ता थोड़ा सा strong करना था अपने आप को मुझे। अपने बच्चों के लिए, husband के लिए, family के लिए। तो बस वही किया।
Silky: क्या आप हमें अपने दैनिक जीवन के किसी साधारण दिन के बारे में बता सकती हैं? आप व्यस्त हैं तो आपका साधारण दिन कैसा होता है?
Gifty: मेरा रोज़ का दिन होता है कि सुबह उठो बच्चों को तैयार करो, स्कूल भेजो, स्कूल छोड़ के आओ और घर में अभी वो सब episode के बाद depression वग़ैरह ख़त्म होने के बाद मैं स्कूल में volunteer भी बनी तो मैं वापस स्कूल जाकर help करती थी सारा दिन उनकी as a parent और वो होता है ना P&F Parents & Friends वाला group मैंने वो join किया और सारा दिन उनको help करती थी वहां पर अभी थोड़े दिनों से। और फिर घर आना घर के काम करना, कुछ और करना, खाना पीना सारा कुछ करना। मेरे husband बहुत help करते हैं क्योंकि अब मैं chopping नहीं कर सकती एक हाथ से, तो वो help करते हैं मेरी बहुत चीजों में। हमने fridge में, life में changes कर लिए हैं तो वो सारा कुछ organize करके फिर मैं बच्चों को लेकर आती हूँ फिर उनकी activities शुरू हो जाती हैं। किसी दिन swimming है किसी दिन नेट बॉल है, एक दिन बास्केट बॉल है। फिर वो tutoring के लिए जाते हैं। फिर tutoring की extra एक class weekday में होती है तो हम रोज़ busy होते हैं कुछ ना कुछ, कुछ ना कुछ
Silky: तो जो गाड़ी आपने दोबारा से चलाना शुरू किया है, जो भी आपकी दिनचर्या जो आप साधारण दिन में रोज बच्चों की activities है आपकी family life है, वो आपको लगता है कि सिर्फ गाड़ी की वजह से ही आप कर पाती हैं?
Gifty: बिल्कुल, उसके बिना तो बहुत ही मुश्किल है, दोबारा से job start की है तो वो भी तो मैं गाड़ी में ही जा सकती हूँ वरना तो घंटों लग जाएंगे public transport लूँगी तो।
Silky: आपने अभी हमें बताया कि आपने दोबारा job शुरू किया है, क्या आप उसके बारे में थोड़ा बता सकेंगे?
Gifty: मैने, अभी trail basis पर चल रही है, लेकिन 100% अगर पसंद like मुझे तो करनी ही करनी है, मैं अब नहीं रह सकती। तीन चार साल घर रह कर मेरा तो बुरा हाल हो गया तो, तो अब मैं वापस job में, वो है as a monitoring officer तो उसमें जैसे prisoners होते हैं home D, home detention पर होते हैं, तो उनकी देखभाल करना।
Silky: तो ये आपको लगता है कि एक गाड़ी चलाना और पहिए ही ऐसी वजह है कि जिसकी वजह से आपको दुबारा से ये job मिली है?
Gifty: बिलकुल बिलकुल देखो अगर मैं गाड़ी नहीं चलाऊँगी तो वो कहेंगे कि public transport पर ही आ जाया करेगी रोज़। मैं नहीं कर सकूँगी। मेरे सात बजे job शुरू होती है। मैं मतलब साढ़े पाँच निकलना पड़ेगा मुझे। मतलब मतलब साढ़े चार बजे उठो सुबह बच्चों का सब कुछ organize करो और फिर जाओ, बहुत मुश्किल है। अब तो मैं 20 मिनट में पहुँच जाती हूँ
Silky: कैसा महसूस हो रहा है आपको सोच के कि आप दोबारा से काम भी करेंगी और बच्चों की भी देखभाल करेंगी?
Gifty: मुझे ऐसा लग रहा है गिफ्टी is back। अभी एक हाथ से वो वापस आई है। but कोई बात नहीं, ऊपर वाला है सब ठीक होगा, लेकिन हो रहा है आहिस्ता आहिस्ता।
Silky: ऐसा लगता है आपका जीवन बहुत व्यस्त है। क्या आप हमारे श्रोताओं यानी listeners के साथ आपके द्वारा उपयोग किए जाने वाले कुछ समर्थन या सेवाओं को साझा कर सकती हैं, जो आपके स्वतंत्रता को बनाए रखने में आपकी सहायता करते हैं।
Gifty: बिल्कुल बिल्कुल, देखिए मेरे को सबसे ज़्यादा help मिली है मुझे अपने pain वाले डॉक्टर से। क्योंकि वो medication है, वो मुझे खानी है सारी उम्र ही खानी है। otherwise मेरे हाथ में बहुत दर्द होती है मैं बैठ भी नहीं पाती, लेट भी नहीं पाती। और उसके बाद Occupational Therapist ने मुझे बहुत help करी है। उन्होंने मेरे घर की कुछ चीजें change करी हैं जैसे, जिसमें अब मैं एक हाथ से ही काम कर सकूं सब कुछ। और मेरे husband में बहुत changes आए हैं। वह बहुत change हुए हैं, वह बहुत help करने लगे हैं। अब आप लोगों को तो सबको पता ही है कि Indian husband कैसे होते हैं। (laughing) so वो बहुत फर्क आया। but यहां की government ने मुझे help किया है
Silky: और सबसे बड़ी बात आपकी गाड़ी अब आपके एक हाथ के हिसाब से ठीक हो गई है।
Gifty: बिल्कुल, वह तो मेरा सबकुछ है।
Silky: बढ़िया है, ये अच्छा है। आप हमारे श्रोताओं के साथ क्या संदेश साझा करना चाहेंगी जिससे उन्हें स्वतंत्रता बनाए रखने में मदद मिल सके गिफ़्टी?
Gifty: देखिए, life में बहुत कुछ होता है। मेरी life ऐसी थी I was very social. मैं बहुत ज़्यादा social थी, लोगों से मिलने जुलने वाली पार्टी करती थी बहुत ज्यादा। डेढ़ डेढ़ सौ लोगों का खाना बनाती थी अपने आप। और बहुत सारे courses सात-सात आठ-आठ course बहुत बहुत कुछ किया, लेकिन ठीक है, life में accident हुआ, changes आए लेकिन एक वो अंदर confidence था ना वो मैंने loose नहीं किया। please आप भी कभी मत करना आप लोग भी। बुरा time आता तो अच्छा भी आता है सबका आता है। अपने आपको strong रखें और अपना confidence loss ना करें। बस यही कहूंगी।
Silky: क्या बात है गिफ़्टी, ये तो बिलकुल सही आपने कहा confidence अपने आप पर और आत्मविश्वास कभी नहीं खोना चाहिए।
Gifty: नहीं छोड़ना चाहिए।
Silky: अब हम आज अपने interview के अंत में आ गए हैं। धन्यवाद गिफ़्टी, आज यहां उपस्थित होने के लिए और स्वतंत्रता के लिए पहियों के महत्व की अपनी कहानी साझा करने के लिए आपका धन्यवाद। आज आपने जो साझा किया है उससे सीखने के लिए बहुत कुछ है। व्यक्तिगत रूप से मैंने देखा है कि कैसे समुदाय में उपलब्ध समर्थन और संस्थानों का प्यार और स्वयं में विश्वास हमें अच्छी तरह से जीने में मदद करता है। वो करता रहेगा अगर हम वो आत्मविश्वास ना खोएं तो। आप जाने से पहले, आप हमारे श्रोताओं को क्या महत्वपूर्ण संदेश देना चाहेंगी?
Gifty: अपनी family को कभी मत छोड़ना। सब family ही काम आती है in the end. हमेशा सबको प्यार से रखो। बहुत जरूरी है, बहुत जरूरी है। और हमेशा अपने विश्वास को कायम रखें। उंच नीच होती रहती है हमारी life में, लेकिन उससे घबराएं नहीं आगे बढ़ सकते हैं हम लोग। हम सभी बढ़ सकते हैं आगे। यह तो छोटी मोटी चीजें हैं यह हाथ हो क्या, मैं अपने परिवार के लिए हूँ ना आज भी। तो बस खुश रहें अपने परिवार के साथ और अपनी ज़िंदगी बहुत अच्छे से जियें।
Silky: बहुत ही खूबसूरत संदेश दिया है आपने गिफ्टी आज बात करने के लिए हमारे साथ यह समय निकालने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद।
Gifty: शुक्रिया।
Silky: यदि आपने हमारी recording का आनंद लिया है तो कृप्या हमारी वेबसाइट speakmylanguage.com.au पर जाएं। जहाँ आपको और जानकारी भी मिलेगी और कृपया Speak My Language के बारे में दूसरों को भी बताएं। आप हमें Facebook, Twitter, Instagram या LinkedIn पर भी देखें और पूरे Austraila में और शायद दुनिया भर में भी इस बातचीत को जारी रखने में हमारी मदद करें। Multicultural Communities Council of South Australia को Speak My Language कार्यक्रम South Australia में पहुंचाने पर गर्व है। Speak My Language program को department of social services द्वारा फंड किया गया है और Australia के आसपास के सभी states और territories के Ethnic तथा Multicultural Communities Council और Multicultural Councils के बीच साझेदारी के माध्यम से पूरे Australia में वितरित किया जा रहा है। हमारे राष्ट्रीय प्रसारण भागीदार SBS और NEMBC हैं।
 

Interview by
Silky Khanuja